Kumbh Mela 2019 at Paryagraj (Allahbad): Latest News: Blog.

प्रयागराज (Prayagraj) में कुंभ (Kumbh mela 2019) की शुरुआत आज से हो चुकी है । आस्था के इस पर्व का पहला शाही स्नान (Shahi Snan) आज यानी 15 जनवरी मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के दिन से शुरू होने जा रहा है via Fresh News India’s News Blog.

कुंभ (Kumbh) का मेला दुनिया का सबसे बड़ा मेला माना जाता है। जहाँ पर करोडों की तादाद में श्रद्धालुओं का संगम के तट पर शाही स्नान करने के लिए एकत्रित होते है। दुनिया के इस सबसे बड़े आयोजन के दौरान लगभग 15 करोड़ श्रदालु डुबकी लगाएंगे

आज मकर संक्रांति के त्यौहार (Makar Sankranti Festival) पर शाही स्नान पर करीब 1 करोड़ लोग स्नान करेंगे । शाही स्नान (Shahi Snan) के लिए साधु,संत,महात्मा तो कई दिन पहले ही कुंभ में पहुँच चुके है । उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से पहले शाही स्नान के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी है , शाही स्नान लगभग साढ़े 5 किलोमीटर क्षेत्र में फैले 35 घाटों पर होगा ।

कुंभ मेला (Kumbh Mela) क्षेत्र किसी भी अनहोनी पर निगरानी रखने के लिए हर चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए है , मेले की सुरक्षा के लिए वायु सेना को भी अलर्ट मोड़ पर रहने के लिए तैयार किया गया हैं। कुंभ (Kumbh mela 2019) के मेले में सबसे पहले संन्यासी अखाड़ों का स्नान होगा ।

कुंभ मेला प्रशासन की ओर से सभी अखाड़ों के स्नान करने के समय को तय कर दिया गया है, जिसमे सबसे पहले संन्यासी अखाड़े का स्नान, फिर बैरागी ओर अंत मे उदासीन अखाड़े के साधु,संत शाही स्नान करेंगे ।

कुंम्ब (Kumbh Mela 2019) मेले में उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से निम्नलिखित तैयारियां की गयी है।

1. कुंभ मेले में 1.5 लाख शौचालय श्रद्धालुओं और साधु, संतो के लिए बनाए है।

2. स्वच्छ भारत अभियान को याद रखते हुए राज्य सरकार ने 24 घण्टे कुंभ मेले (Kumbh Mele) साफ-सफाई के लिए 20 हजार डस्टबीन रखे गए है।

3. लगभग 35 हजार सुरक्षाकर्मियों पर मेले की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश दिए गए है।

4. किसी भी अनहोनी पर नजर रखने के लिए 14 हजार सीसीटीवी कैमरे (CCTV Cameras) पूरे मेले परिसर में लगाए गए है ।

Video Credit: ABP News

5. भारतीय रेलवे ने भी अपनी तरफ से कुंम्ब मेले के लिए खास तैयारियां करि है । कुंभ मेले (Kumbh Mela 2019) के लिए रेलवे 800 स्पेशल ट्रेन चलाने जा रही है। प्रवासी भारतीयों के लिए दिल्ली से 5 स्पेशल ट्रेन भी चलाई जाएंगी, प्रयागराज स्टेशन तक ओर कुंभ मेले में आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे ने “कुंभ सेवा ऐप” को भी लांच किया है।

6. डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) की सुविधा भी करि गयी है , कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के खाने-पीने की दुकानों पर डिजिटल पेमेंट के सिस्टम की भी सुविधा भी करि गयी है। जिसमे पेटीएम (Paytm) से लेकर भीम एप (Bhim App) के जरिये पेमेंट करने की सुविधा रहेगी।

7. विदेशों से आने वाले राजदूत श्रद्धालुओं के लिए अलग से टेंट की व्यवस्था करि गयी है , जिसमे से अभी तक 71 देशों के राजदूत आ चुके है व करीब 180 देशों के लोगो के पहुचने की संभावना है ।

8. कुंभ मेले में Lost and Found सेंटर भी बनाया गया है जो आपकी मदद के लिए तैयार रहेगा । मेले में सिर्फ एक या दो नहीं बल्कि 15 सेंटर बनाये गए है , इनका काम आपको अपने से मिलाने का होगा । इसे ओर आसान बनाने के लिए मोबाइल एप भी बनाई गई है।

9. बीमारी-प्रदूषण फैलने से रोकने के लिए इंटेलीजेंस के ऑफिसर्स और मेडिकल टीम के साथ-साथ अस्पतालों को भो अलर्ट मोड़ पर तैयार रहने के लिए कहा गया है।

10. कुंभ मेले में इनलैंड (INLAND) वाटरवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Water Ways Authority of India) की तरफ़ से नाव-बोट की व्यवस्था करि गयी है।

11. किलाघाट, सरस्वती घाट, नैनी ब्रिज, सुजावन घाट पर फ्लोटिंग टर्मिनल बनाए हैं। सुजावन घाट से 20 किलोमीटर दूर किला घाट तक नाव-बोट की सुविधा होगी। यह बोट वाराणसी से प्रयागराज के लिए चलेगी, जो एक बार में 80 किलोमीटर की रफ्तार से 16 लोगों को ले जाने की क्षमता रखती है।

12. कुंभ मेले की तैयारियों में राज्य सरकार ने 4300 करोड़ रुपये इस बार खर्च किये है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *