Jallianwala Bagh Massacre Hindi History, Quotes, Essay, Significance facts news

जलियांवाला बाग (Jallianwala Bagh Massacre in Hindi): एक ऐसी दुखद घटना जिसने पूरी दुनिया को सोचने पर मजबूर कर दिया!

13 अप्रैल 1919 की घटना जलियांवाला बाघ हत्याकांड (Jallianwala Bagh Massacre Hindi) जिसे अमृतसर का नरसंहार भी कहा जाता है। History, Quotes,Essay, Facts,Smarak

Actor Shiv Kumar Subramaniam Death पॉप्युलर ऐक्टर शिव कुमार सुब्रमण्यम का निधन, लंबे समय से बीमार

Actor Shiv Kumar Subramaniam Death: पॉप्युलर ऐक्टर शिव कुमार सुब्रमण्यम का निधन, लंबे समय से बीमार

Shiv Kumar Subramaniam Death News [Hindi]: बॉलिवुड के पॉप्युलर ऐक्टर और स्क्रीनराइटर शिव कुमार सुब्रमण्यम (Shiv Kumar Subramaniam passes away) का निधन हो गया है। वह पिछले साल सान्या मल्होत्रा स्टारर ‘मीनाक्षी सुंदरेश्वर’ में नजर आए थे। शिव कुमार ने 10 अप्रैल की रात 10 बजे आखिरी सांस ली। उनके निधन (Shiv Kumar Subramaniam death reason) की वजह भी सामने...

Booster Dose in India [Hindi] बूस्टर डोज क्यों जरूरी, कितनी होगी कीमत

Booster dose in India: बूस्टर डोज क्यों जरूरी, कैसे पता करेंकि किसी को COVID-19 बूस्टर शॉट की आवश्यकता है?

Booster Dose in India [Hindi]: कोरोना वायरस का कोई स्थायी इलाज नहीं है। इससे बचाव के लिए वैक्सीन को असरदार माना जा रहा है। अब तक यह देखा गया है कि कोविड-19 के टीके गंभीर बीमारी, अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु के जोखिम को कम करने में प्रभावी रहे हैं। क्या होता है बूस्टर डोज (What is Booster Dose)...

NTA NEET UG 2022 Application [Hindi] NEET UG के लिए ऐसे करें अप्लाई

NTA NEET UG 2022: जारी हुआ नीट परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन, देखें पूरी डिटेल

NTA NEET UG 2022 Application: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने नेशनल इलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (यूजी) यानि नीट यूजी 2022 परीक्षा के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है और उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर 6 मई 2022 तक कर सकेंगे। हालांकि, उम्मीदवार को निर्धारित 1600 रुपये का शुल्क 7 मई तक भर पाएंगे। दूसरी तरफ एनटीए के नोटिस के अनुसार नीट यूजी...

MP Board 10th Result 2022 [Hindi] जल्द जारी होगा एमपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट

MP Board 10th Result 2022: जल्द जारी होगा एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट

MP Board 10th Result 2022 : एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट ( MPBSE 10th 12th Result 2022 ) को लेकर स्टूडेंट्स बहुत ही बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि नतीजे अप्रैल के महीने के तीसरे या चौथे सप्ताह तक जारी हो सकते हैं। यह भी कहा जा रहा है कि पहले 12वीं का परिणाम...

UP Police SI Result 2021 [Hindi] ऐसे चेक करें यूपी पुलिस के नतीजे 

UP Police SI Result 2021: जारी हुआ यूपी पुलिस एसआई पुलिस का रिजल्ट, इस लिंक से करें चेक

UP Police SI Result 2021: यूपी पुलिस एसआई यानी उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती और प्रमोशन बोर्ड आधिकारिक वेबसाइट uppbpb.gov.in पर एसआई यानी सब-इंस्पेक्टर का रिजल्ट (UP Police SI Recruitment 2021) जारी कर दिया गया है। चयनित उम्मीदवार (up police si recruitment 2021) की मेरिट लिस्ट भी रिलीज हो गई है। सब इंस्पेक्टर 1329 पदों पर 4 और 5 दिसंबर को ऑनलाइन लिखित परीक्षा का आयोजन (हुआ था। गौरतलब है कि 15...

April Fools Day 2022 [Hindi] Pranks, Jokes, Quotes, History

Happy April Fools Day 2022: एक अप्रैल को ही क्यों मनाते हैं अप्रैल फूल डे?

अप्रैल फूल दिवस को मूर्ख दिवस भी कहा जाता है। अप्रैल फूल डे (April Fools Day 2022) अप्रैल का पहला दिन (1st April) होता है। दुनिया के तमाम देशों में पहली अप्रैल को इसे मनाया जाता है। इस दिन दोस्तों, परिजनों और सहकर्मियों के साथ हल्के-फुल्के मूड में जोक्स-प्रैंक करते हैं। यूं तो अप्रैल फूल डे लंबे वक्त से मनाया...

Rajasthan Diwas 2022 [Hindi] Quotes & History राजस्थान की खूबियां

Rajasthan Day 2022: जानिए क्यों मनाया जाता है राजस्थान दिवस? क्या है यहां की खूबियां और इतिहास?

Rajasthan Day (Rajasthan Diwas 2022): राजस्थान दिवस या कहे राजस्थान स्‍थापना दिवस (Rajasthan Sthapana Divas) प्रतिवर्ष मार्च महीने के 30 तारिख को मनाया जाता है । राजस्‍थान क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्‍य एवं जनसंख्‍या के दृष्टि से सातवां सबसे बड़ा राज्‍य है। जानकारी के अनुसार राजस्‍थान का कुल क्षेत्रफल कुल 342,239 वर्ग किलोमीटर है। हर साल के...

Bhagat Singh Shaheedi Diwas जब भगत सिंह हसते हसते चड़ गए थे फांसी

Bhagat Singh Shaheedi Diwas): आज ही के दिन (23 मार्च) भगत सिंह हसते हसते फांसी चड़ गए थे

Bhagat Singh Death Anniversary (Shaheedi Diwas) : शहीद भगत सिंह (Bhagat Singh) भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी और क्रांन्तिकारी थे. उन्हें किसी भी परिचय की दरकार नहीं है. भगत सिंह कम उम्र में ही भारतवर्ष की खातिर शहीद हो गए थे. उनके लिए मातृभूमि से बढ़कर कुछ नहीं था. अपनी आखिरी सांस तक उन्होंने स्वतंत्रता प्राप्ति के लिए संघर्ष किए...