Varinder Singh Hockey Player [Hindi] मेजर ध्यानचंद पुरस्कार विजेता ओलंपियन वरिंदर सिंह का निधन, काफी दिनों से चल रहे थे बीमार 

Varinder Singh Hockey Player Death [Hindi] ओलंपियन वरिंदर सिंह का निधन
Spread the love

Varinder Singh Hockey Player Death [Hindi] | ओलंपिक और विश्व कप पदक विजेता टीम का हिस्सा रहे हॉकी खिलाड़ी वरिंदर सिंह का मंगलवार (28-6-2022) सुबह जालंधर में निधन हो गया। वर्ष 1970 के दशक में भारत की कई यादगार जीत का हिस्सा रहे वरिंदर 75 साल के थे।वरिंदर 1975 में कुआलालंपुर में पुरुष हॉकी विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। यह इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत का अब तक का एकमात्र स्वर्ण पदक है। भारत ने तब फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 2-1 से हराया था।वरिंदर 1972 म्यूनिख ओलंपिक में कांस्य पदक और एम्सटरडम में 1973 विश्व कप

जानकारी के मुताबिक ओलंपियन वरिंदर सिंह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। 16 मई, 1947 को जन्मे वरिंदर सिंह ने म्यूनिख में 1972 के ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था। उन्होंने 1976 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भी भाग लिया। “हॉकी का मक्का” कहे जाने वाले जालंधर की प्रतिष्ठित सुरजीत हॉकी सोसाइटी ने वरिंदर सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया।

■ Also Read | Andrew Symonds Death News [Hindi] | कार एक्सीडेंट में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स की मौत

लोग वरिंदर सिंह को फील्ड हाकी खिलाड़ी के रूप में जानते थे। उन्होंने वर्ष 1985 से 1993 तक पंजाब एंड सिंध बैंक हाकी टीम में बतौर कोच सेवाएं दी। वर्ष 2008 से वे पंजाब खेल विभाग में बतौर कोच शामिल थे।

Varinder Singh Hockey Player Death News | वरिंदर सिंह के बारे में खास बातें

  • वरिंदर 1975 में कुआलालंपुर में पुरुष हॉकी विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। यह इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भारत का अब तक का एकमात्र स्वर्ण पदक है। भारत ने तब फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 2-1 से हराया था।
  • वरिंदर 1972 म्यूनिख ओलंपिक में कांस्य पदक और एम्सटरडम में 1973 विश्व कप में रजत पदक जीतने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा थे।
  • वरिंदर की मौजूदगी वाली टीम ने 1974 और 1978 एशियाई खेलों में भी रजत पदक जीता। वह 1975 मांट्रियल ओलंपिक में भी भारतीय टीम में शामिल थे।
  • वरिंदर को 2007 में प्रतिष्ठित ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार से भी नवाजा गया था।
  • हॉकी इंडिया ने वरिंदर के निधन पर शोक जताया है।
  • हॉकी इंडिया ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘वरिंदर सिंह की उपलब्धि को दुनिया भर का हॉकी समुदाय याद रखेगा।’’

ओलंपिक हॉकी खिलाड़ी वरिंदर सिंह का मंगलवार को पंजाब के जालंधर में निधन हो गया। वह कुछ समय से अस्वस्थ थे। सोलह मई-1947 को जन्मे ध्यानचंद पुरस्कार प्राप्त वरिंदर ने म्यूनिख में 1972 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था। उन्होंने 1976 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भी भाग लिया।

Varinder Singh (field hockey) - Wikipedia

Varinder Singh Hockey Player Death [Hindi] |

वरिंदर सिंह फील्ड हाकी खिलाड़ी के रूप से जाने जाते थे। वर्ष 1985 से 1193 तक पंजाब एंड सिंध बैंक हाकी टीम में बतौर कोच की सेवाएं भी दे चुके है। वर्ष 2008 पंजाब खेल विभाग में बतौर कोच की भूमिका में थे।

अब भी वह लायलपुर खालसा कॉलेज फॉर वूमेन में महिला हॉकी खिलाड़ियों को खेल के गुर सिखा रहे थे। इसके अलावा राउंड ग्लास हॉकी एकेडमी में भी युवाओं को हॉकी खेलना सिखा रहे थे। वरिंदर सिंह के निधन पर हॉकी इंडिया ने शोक जताया है। हॉकी इंडिया ने विज्ञप्ति में कहा कि वरिंदर सिंह की उपलब्धि को दुनियाभर का हॉकी समुदाय याद रखेगा।’


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.